Aapke Message Ka Intezaar Karenge

Aapke Message Ka Intezaar Karenge

Kayamat tak aapko yaad karenge,
aapki har baat par aitbaar karenge,
apko message karne ko nahi kahenge,
par phir bhi aapke message ka intezaar karenge


कयामत तक आपको याद करेंगे,
आपकी हर बात पर ऐतबार करेंगे,
आपको मैसेज करने को नही कहेंगे,
पर फिर भी आपके मैसेज का इंतज़ार करेंगे

Wo ankho se yoon shararat karte hain
Apni adaaon se yun qayamat karte hain
Nigahen unke chehre se hatati hi nahi
Or wo hamari nazro se shikayat karte hain

Aapke Message Ka Intezaar Karenge

वो आँखो से यूँ शरारत करते हैं
अपनी अदाओं से यूँ क़यामत करते हैं
निगाहें उनके चेहरे से हटती ही नही
और वो हमारी नज़रो से शिकायत करते हैं

Kal ho “aaj” jaisa,
Mahal ho “Taj” jaisa,
Phool ho”Gulab” jaisa,
Aur
Zindagi ke har kadam pe sath ho.
Sath ho
?
?
Sath ho “AAP jaisa”

कल हो “आज” जैसा,
महल हो “ताज” जैसा,
फूल हो”गुलाब” जैसा,
और
ज़िंदगी के हर कदम पे साथ हो.
साथ हो
?
?
साथ हो “आप जैसा”

Aapke Message Ka Intezaar Karenge

Ek umeed ka diya jalaya tha apke pyar ko pane ko,
par adhura rah gaya mera sapna ek hone ko,
yad karte hain  ham apki yadon ko,
aur barsa dete hain in ansuon ko

एक उमीद का दिया जलाया था आपके प्यार को पाने को,
पर अधूरा रह गया मेरा सपना एक होने को,
याद करते हैं  हम आपकी यादों को,
और बरसा देते हैं इन आँसुओं को

Dard ki diwar per faryad likha kerte hain,
Her raat tanhai ko aabad kiya kerte hain,
Ai khuda unhe jarur khush rakhna,
Jinhe ham tujhse bhi pehle yad kiya karte hain.

दर्द की दीवार पेर फरयाद लिखा करते हैं,
हर रात तन्हाई को आबाद किया करते हैं,
ऐ खुदा उन्हे ज़रूर खुश रखना,
जिन्हे हम तुझसे भी पहले याद किया करते हैं.

Chand se jab mulakat hoti hai,
apke bare me unse kuch bat hoti hai,
wo kehte hain mere pas khubsurat sitara hai,
ham kehte hain unse bhi khubsurat dost hamara Hai.

चाँद से जब मुलाकात होती है,
आपके बारे मे उनसे कुछ बात होती है,
वो कहते हैं मेरे पास खूबसूरत सितारा है,
हम कहते हैं उनसे भी खूबसूरत दोस्त हमारा है.

Kitni buri lagti hai zindagi
jab hum tanha mehsus karte hain,
marne ke baad milte hai char kandhe,
aur jeete ji ham ek ke liye taraste hain.

कितनी बुरी लगती है ज़िंदगी
जब हम तन्हा महसूस करते हैं,
मरने के बाद मिलते है चार कंधे,
और जीते जी हम एक के लिए तरसते हैं.