दर्द भरे एसएमएस यादों में तेरी

दर्द भरे एसएमएस यादों में तेरी

जिक्र उनका ही रहा मेरे फसाने में
जिनको जान से ज्यादा चाहा हमने जमाने में
तनहाई में उनकी ही याद का सहारा मिला
नाकामयाब रहे जिन्हें हम भुलाने में

Zikar unka hi raha mere fasane mein
jinko jaan se zyada chaha humne zamane mein
tanhai mein unki hi yaad ka sahara mila
nakamyab rahe jinhe hum bhulane mein…!


दर्द भरे एसएमएस यादों में तेरी

तेरे प्यार का सिला हर हाल में देंगे
खुदा भी मांगे ये दिल तो टाल देंगे
अगर दिल ने कहा तुम बेवफा हो
तो इस दिल को भी सीने से निकाल देंगे।

Tere pyar ka sila hr haal me denge,
Khuda b maange ye dil to taal denge,
Agar dil ne kaha tum bewafa ho,
To is dil ko b sine se nikal denge.

यादों में तेरी आंसू बनके आयेंगे
दिल में तुम्हारे विश्वास बनके आयेंगे
याद करना बस सच्चे मन से
अमावस की रात भी पूनम का चांद बनके आयेंगे।

Yado Me Tmhri Aansu Banke Aynge,
DilMe Tmhre Vishwas Banke Aynge,
Yaad Karna Bas Sacche MannSe,
Amawas ki raat b punam ka chand banke Aynge.

रिश्ता हमारा इस जहां में सबसे प्यारा हो
जैसे जिंदगी को सांसों का सहारा हो
याद करना हमें उस पल में
जब तुम अकेले हो और कोई ना तुम्हारा हो

Rishta humara is jaha me sabse pyara ho
Jaise zindgi ko sanso ka sahara ho
Yaad karna hume us pal me
Jab tum akele ho aur koi na tumhara ho.

दर्द भरे एसएमएस यादों में तेरी

काश वो नगमे सुनाये ना होते
आज उनको सुनकर ये आंसू आये ना होते
अगर इस तरह भूल जाना ही था
तो इतनी गहरायी से दिल में समाये ना होते

Kash wo nagme sunaye na hote
Aaj unko sunkar ye Ansu aaye na hote
Agar is tarah bhul jana hi tha
To itni gehrai se dilme samaye na hote.

खमोशियों में इक अदा इतनी प्यारी लगी
दुनिया में आपकी दोस्ती सबसे न्यारी लगी
दुआ करते हैं ये ना टूटे कभी
क्योंकि इस दुनिया में यही हमको हमारी लगी।

Khamoshiyo me 1 ada itni pyari lagi,
Duniya me apki dosti sbse nyari lagi,
Dua krte h ye na tute kabhi,
kyuki is duniya me yehi hmko hmari lagi.

ज़ख्म खाना तो अपनी आदत है
मुस्कुराना तो अपनी आदत है
रोशनी हो या घुप अंधेरा
दिल जलाना तो अपनी आदत है।

Zakhm Khana To Apni Aadat Hai,
Muskurana To Apni Aadat Hai,
Roshni Ho Ya Ghup Andhera,
Dil Jalana To Apni Aadat Hai.

फूल से किसी ने पूछा
तूने सबको खुशबू दी
पर तुझे क्या मिला
फूल ने कहा
देना लेना तो व्यापार है,
जो देकर कुछ ना मांगे,
वो प्यार है!

Phool Se Kisi Ne poocha,
Tu Ne Sub Ko Khushbu De
Par Tujhe Kya Mila,
Phool Ne Kaha :
Dena Lena To Vyapaar Hai,
Jo Dekar Kuch Na Mange,
Woh Pyar Hai.