Hindi SMS Mohabbat

Hindi SMS Mohabbat Ko Majburi Ka Naam Mat Dena

मोहब्बत को मज़बूरी का नाम मत देना,
हकीक़त को हादसों का नाम मत देना,
अगर दिल में हो प्यार किसी के  लिए तो,
उससे कभी दोस्ती का नाम मत देना…!!.

कुछ खोये बिना हमने पाया है,
कुछ मांगे बिना हमें मिला है,
नाज़ है हमें अपनी तक़दीर पर
जिसने आप जैसे दोस्त से मिलाया है !

पल 2 पल की खुशियों के लिए,
7 जो तेरा छोड़ा है,
उम्र भर क लिए,
हमने दुखो से नाता जोड़ा है,
तुम संग कितने खुश थे हम,
मेरे दर्द के आगे आज आस्मां भी थोड़ा है,
तुम थे हमारे,
तो बेगाने भी अपने थे,
जाते ही तेरे मेरे अपनों ने भी मुंह मोड़ा है

इस हवा में खुशबु है तुम्हारी,
इस चाँद की रौशनी में सूरत है तुम्हारी,
इस दिल से जो मर कर भी जुदा न हो सके,
वो सिर्फ और सिर्फ दोस्ती है तुम्हारी

मोहब्बत की हर गली गुमनाम क्यों हैं,
जुदाई और मौत इश्क का अंजाम क्यों हैं,
लोग देते है इसे नाम खुदा का,
तो फिर यह मोहब्बत इतनी बदनाम क्यों है.

दिल ज़िन्दगी से बेजार है मालूम नहीं क्यों,
सीने में सांस है मालूम नहीं क्यों.
इकरारेवफा यार ने हर एक से किया,
मुझ से ही बस इंकार है मालूम नहीं क्यों.