Dosti WhatsApp Status video Hindi



Dosti WhatsApp Status video Hindi




ओये मेरे दोस्त,
अँधेरे के घोस्ट ,
डबल अंडे के टोस्ट,
बुझे हुए लैम्प पोस्ट,
फ्लॉप शो के होस्ट ,
आई मिस यू द मोस्ट…


Oye mere dost,
Andhere ke ghost,
Double ande ke toast,
Bujhe huye lamppost,
Flop show ke host,
I miss you the most…


Download Dosti WhatsApp Status video Hindi

हकीक़त हो तुम कैसे तुझे सपना कहूँ ,
तेरे हर दर्द को अब मैं अपना कहूँ,
सब कुछ कुर्बान है मेरे यार तुझ पर,
कौन है तेरे सिवा जिसे मैं अपना कहूँ




Haqiqat ho tum kaise tujhe sapna kahun,
Tere har dard ko ab me apna kahun,
Sab kuchh kurban hai mere yar tujh par,
Kaun hai tere siva jise main apna kahun


अपनों को जब अपने खो देते हैं,
तनहाइयों में वोह रो देते हैं,
क्यूँ इन पलकों पर बैठाते हैं लोग उनको ,
जो इन पलकों को अक्सर आंसुओ से भिगो देते हैं


Apno ko jab apne kho dete hain,
Tanhaiyon men woh ro dete hain,
Kyun in palkon par baithaate hain log unko,
Jo in palkon ko aksar aansuo se bhigo dete hain





जब भी याद आती है मुस्कुरा लेते हैं ,
कुछ पलों के लिए हर गम भुला देते हैं,
कैसे भीग सकती हैं आपकी पलकें,
आपके हिस्से के आंसू तो हम बहा लेते हैं…


Jab bhi yaad aati hai muskura lete hain,
Kuchh palon ke liye har gam bhula dete hain,
Kaise bheeg sakati hain aapki palken,
Aapke hisse ke aansu to hum baha lete hain…

BEST Dosti WhatsApp Status video Hindi


यार का रुतबा जिंदगी में सब से ज्यादा होता है,
यार के बिना जीवन आधा होता है,
यार यार नहीं खुदा होता है,
महसूस तो तब होता है जब वो जुदा होता है


Yaar ka rutba zindgi men sub se jyada hota hai,
Yaar ke bina jivan adha hota hai,
Yaar yaar nahi khuda hota hai,
Mehsoos to tab hota hai jab vo juda hota hai



मंजिल उन्ही को मिलती है
जिनके सपनो में जान होती है .
पंख से कुछ नहीं होता,
हौसलों से उड़ान होती है.


Manzil unhi ko milti hai
Jinke sapno mein jaan hotii hai.
Pankh se kuchh nahi hota,
Hauslon se udaan hoti hai.




सिर्फ तुम ही हो ज़िन्दगी में ,
पर मैं तुम्हे पा नहीं सकता,
रहेगा दुःख हमेशा तुम्हे न पाने का ,
पर अपनी ख़ुशी के लिए तुम्हे रुला नहीं सकता …!




Sirf tum hi ho zindagi men,
Par main tumhe pa nahi sakta,
Rahega dukh hamesha tumhe na pane ka,
Par apni khushi ke liye tumhe rula nahi sakta…!

0 Comments: